जानिए क्या सही में जैन धर्म और बौद्ध धर्म की स्थापना भारत मे हुई थी !!

दोस्तों जैसा कि हम सब जानते है भारत एक ऐसा देश है जहां अनेको तरह के धर्म उपस्थित है यहाँ पर नही नही करते सौ से ज्यादा धर्म है जिनकी सबकी मान्यता अलग अलग है , दूसरे देशों के मुकाबले भारत मे ही लार्ज डाइवर्सिटी है जिसके कारण यहाँ एक एकता भी है । लेकिन जैसा कि हम सब जानते है भारत मे ही हिन्दू धर्म की भी स्थापना हुई है लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि बौद्ध धर्म और जैन धर्म की स्थापना भी कई हद तक भारत मे हुई है । वैसे तो बौद्ध और जैन धर्म पूरी दुनिया मे फैलावा धर्म है लेकिन इनकी स्थापना श्रीलंका , भारत , नेपाल , भूटान जैसे देशो में हुई है ।

इनकी मान्यता भारत मे ही बनी है अगर आप कभी गंगटोक जो कि सिक्किम में है वहां गए हो तो आपको पता लगेगा कि अगर आस पास के देशों में किसी बड़े आदमी जैसे कि बौद्ध धर्म के महात्मा अग्रह की मृतयु हो जाती है तो वहां पर एक मंदिर है वही पर उसको सबसे पहले विदाई दिलाने लाते है । बौद्ध धर्म भारत के पुराने धर्मो में से एक है इस धर्म मे अनेकों भारतीय रिवाज और मान्यता है । भारत मे ही बौद्ध धर्म के पूर्वज रहते थे । उन्होंने यहाँ आकर ही अपना जीवन व्यथित किया । बौद्ध धर्म और जैन धर्म मे भी काफी समानता है सब मे एक ही मान्यता है हर धर्म एक ही चीज़ सिखाता है भगवान की मान्यता । सब धर्म मे पाप पुण्य एक जैसे ही है । बौद्ध धर्म के इतिहास में भी भारत का जिक्र है जो कि साफ साफ बताता है कि बौद्ध धर्म भारत से ही उत्पन हुआ है । जैन धर्म भी भारत से ही निकलावा धर्म है इस धर्म मे हर रीति रिवाज हिन्दू धर्म जैसा है ।
More Desi News Box

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *