आखिर क्यों अमेरिका के लोग पकिस्तान को चप्पल चोर बोल रहे है , वजह जानकर दंग रह जायेंगे आप !!

यूनाइटेड स्टेट इफ अमेरिका जो की एक पावरफुल देश माना जाता है क्यों की उसके पास आधुनिक हतियार है तथा टेक्नोलॉजी में भी काफी एडवांस है | अमेरिका में पाकिस्तान अम्बेसी के सामने लोगों ने कुलभूषण के उपर हो रहे हत्याचारो को लेकर काफी विरोध किया | इस विरोध में कई भारतियों के साथ साथ अमेरिकी लोग भी मोजूद थे | सिर्फ जाधव ही नही बल्कि उनकी माँ और पत्नी के उपर भी अत्याचार हो रहे है | इस बात को लेकर लगभग हर देश पाकिस्तान से खफा है | लोग पाकिस्तान को चपल चोर पाकिस्तान कहकर पुकार रहे है | इसमें उन्होंने जुते चप्पल को भी शोकेस किया था | एक रिपोर्ट के अनुसार एक व्यक्ति बयां देता है की पाकिस्तान ने जरुरत मंद औरत की चप्पल लेकर गलत किया , पाकिस्तान अमेरिका से पैसे ले रहा है तो भारत से चप्पल जुते खा रहा है | ये कभी बाज नही आएगा इसकी हरकतों पर अब लगाम लगाना जरुरी है | दूसरा कोई व्यक्ति बयान देता है की पाकिस्तान की सोच बहुत ही छोटी है तथा स्वाभिमान शुन्य प्रतीत होता है , पाकिस्तान कभी नही सुधरेगा ये हमें जान लेना चाहिए | पाकिस्तान कुलभूषण को उसके परिवार से नही मिलने दे रहा था लेकिन बाद में देशो के दबाव में आकर कुलभूषण को उसके परिवार से मिला दिया गया लेकिन फिर भी उन लोगों से दुर्व्यवहार किया गया | पाकिस्तानी जुते के बारे में बयां देते है की जुते के बारे में बयान देते है की जूते में भी जासूसी सम्बंधित कोई चीज़ हो सकती है | भारत सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ काफी नाराजगी जताई है | आपको बतादे हाल ही में पाकिस्तान ने कुलभूषण की एक विडियो जारी की थी जिसमे कुलभूषण बोल रहे है की भारत फालतू में मेरे इति चिंता कर रहा है मै यहाँ खुश हूँ , इंडिया वालो के पास कुछ काम नही है वो इसलिए पाकिस्तान पे आरोप लगा रहा है | लेकिंग एक रिपोर्ट बताती है की कुलभूषण से ये बातें जबरदस्ती बुलाई गयी है | ऐसे झूठे बयान पाकिस्तान पहले भी जारी कर चूका है जिसका खुलासा बाद में हुआ | आपको बतादे अगर आपको नही पता की कुलभूषण कोन है और इसके साथ क्या हुआ ? दरअसल कुलभूषण को पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में गिरफ्तार करा हुआ है जबकि वो कोई जासूस है ही नही लेकिन पकिस्तान छोटी सोच का है इसलिए ऐसा करता व प्रतीत हो रहा है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *